सीलमपुर विधानसभा मे भाजपा को भारी बढ़त के आसार ; जीत मानी जा रही है लगभग तय

0
61

चुनावी डेस्क- राजनीति हर पल करवट बदलती है।यही वजह कि आखिरी नतीजे आने तक यह भ्रम बना रहता। लड़ने वाले सारे प्रत्याशी अपने अपने ढंग से जीत रहे है। लेकिन अंत में जीतता एक ही है।

सीलमपुर में इस बात वोटों के भयंकर ध्रुवीकरण का अनुमान है। शाहीनबाग बनाम राष्ट्रवाद हुआ दिल्ली का चुनाव आप पार्टी के लिए आफत बना हुआ है।आप पार्टी के सभी सीनियर नेताओं कि सांसें अटकी पड़ी है। सूत्रों कि माने तो केजरीवाल पिछले दो हफ्ते से नई दिल्ली सीट पर चिपके है। बाकी प्रत्याशियों को समय नहीं दे पा रहे है।ऐसे में माना जा रहा है। केजरीवाल अपनी सीट बचाने कि जुगत में लगें पडे है।

सियासी जानकर कहते है। सीलमपुर में मुस्लिम वोटों का आप और कांग्रेस में बंटवारा होगा। ऐसे में ध्रुवीकरण का सीधा फायदा भाजपा को होता हुआ दिखाई दे रहा है। सीलमपुर सहित समूची दिल्ली में भाजपा का जनाधार तेजी से बढ़ा है। जिसका असर ग्यारह फरवरी को नतीजों के रूप में देखने को मिलेगा।भाजपा कि आक्रामक रणनीति, मोदी का करिश्माई नेतृत्व और कमाल के बूथमैनेजमेंट के दम पर भाजपा इस बार दिल्ली में कमल वाली सरकार बना सकती है।

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here