• Home
More

    जानिए किस तरह मुरलीधर राव की कुशल रणनीति से टीडीपी छोड़ भाजपा मे शामिल हुए 4 सांसद

    सपने में भी नही सोचा होगा आंध्रा प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने की कितना महंगा पड़ेगा उन्हे मोदी विरोध। 4 राज्यसभा सांसदों के भाजपा में जाने के बाद तेलुगुदेशम पार्टी का नाम भी राज्यसभा से मिट गया है।इस आपरेशन को पूरा करने की जिम्मेदारी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने अपने दक्षिण भारत के प्रभारी महामंत्री मुरलीधर राव को सौंपी थी।

    गौरतलब है की ये सभी सांसद औपचारिक रूप से भाजपा में शामिल होने से पहले हैदराबाद में मुरलीधर राव से मिले और भविष्य की रणनीति बनाई। आपरेशन की सफलता को मुरलीधर राव के हालिया आंध्रा दौरे से भी जोड़कर देखा जा रहा है जहां उन्होंने प्रेस में खुलकर बोला था कि टीडीपी समेत अन्य दलों के तमाम नेता भाजपा में शामिल होने वाले हैं।

    इस घटना के उपरांत वर्षों से तेलुगु प्रदेशों में अपनी पकड़ मजबूत करने को आतुर भाजपा को संजीवनी मिली है। मुरलीधर राव यह दावा करते हैं कि भाजपा ही आंध्र और तेलंगाना में एकमात्र विपक्ष है और इस मौके का फायदा उठाकर इन प्रदेशों में अपनी स्तिथि मजबूत कर वो दिन दूर नहीं जब यहां भाजपा की सरकार होगी। उनका यह दावा कितना सफल होगा यह तो वक़्त बताएगा लेकिन फिलहाल भाजपा इन प्रदेशों में मजबूत होती दिख रही है।

    Recent Articles

    भाजपा के समर्थन में उतरा दिल्ली के व्यापारियों का संगठन कैट

    चुनावी डेस्क- दिल्ली का दंगल मतदान से पहले रोमांचक हो गया है। शाहीनबाग के पर्दाफाश के बात आम आदमी पार्टी लगातार बैंकफुट पर जा...

    सीलमपुर विधानसभा मे भाजपा को भारी बढ़त के आसार ; जीत मानी जा रही है लगभग तय

    चुनावी डेस्क- राजनीति हर पल करवट बदलती है।यही वजह कि आखिरी नतीजे आने तक यह भ्रम बना रहता। लड़ने वाले सारे प्रत्याशी अपने अपने...

    अंबेडकर नगर मे दिख रहा है भाजपा का जलवा

    चुनावी डेस्क- दिल्ली का 2020 विधानसभा चुनाव आम आदमी पार्टी,भाजपा, कांग्रेस के लिए नाक का सवाल बना हुआ है। क्योंकि हर दल दिल्ली में...

    जानकारों के अनुमान के मुताबिक कोंडली विधानसभा पर भाजपा ने उड़ा राखी है आप की नींद

    चुनावी डेस्क- असल चुनाव और क्रिकेट का मैच आखिरी ओवरो और मतदान के दिनों में देखने को मिलता है। लिहाजा जो पूर्वानुमान दिल्ली चुनाव...

    सीलमपुर में हिन्दू मुस्लिम ध्रुविकरण के आसार

    चुनावी डेस्क- राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का सीलमपुर इलाका दंगों का दंश झेलता रहा है। चालीस प्रतिशत मुस्लिम आबादी है। वही साठ प्रतिशत हिंदू आबादी...

    Related Stories

    Leave A Reply

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Stay on op - Ge the daily news in your inbox