अम्बेडकर नगर मे “आप” भारी मुश्किल मे

0
39

चुनावी डेस्क- अगर बात निकली है तो दूर तलख जाएगी। केजरीवाल मुफ्त कि योजनाओं के आसरे सत्ता में वापसी चाहते है। भाजपा मोदी और राष्ट्रवाद के दम पर दिल्ली फतह करना चाहते है।कांग्रेस दिवगंत शीला दिक्षित के नाम पर साहनुभूती चाहती है।

 

अंबेडकर नगर सीट दिल्ली कि 70 आरक्षित सीटों में से एक है। मौजूदा आप के विधायक के खिलाफ खासा रोष आमजन में है। इसलिए केजरीवाल का फोकस अपनी सीट पर कम अन्य पर ज्यादा है।

 

सियासी जानकारों का कहना है। दिल्ली के घमासान के बीच अंबेडकर नगर में विधायक विरोधी जनता का रुख आप के सीनियर नेताओं कि सांसें फुलाने वाला है। आप के एक बडे नेता ने नाम नहीं छापने कि शर्त पर बताया कि अंबेडकर नगर में बिगड़ते समीकरण के बीच आप इंटर्नल कांग्रेस से सौदेबाजी करने में जुटी है।

 

बहरहाल अंबेडकर नगर में आप सरकार की नाकामी साफ नजर आती है। चारों तरफ फैली गंदगी और अटके पडे सीवरेज ने स्थानीय लोगों कि जिदंगी बद बदतर बना दी है। स्थानीय लोगों का कहना है, इन सब हालातों कि जिम्मेदार आप कि नकारा सरकार है। ऐसे में अगर अंबेडकर नगर सीट आप के हाथ से फिसल जाए तो बडी बात नहीं होगी।

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here